Home बीकानेर सेवानिवृत प्रधानाचार्य, वरिष्ठ भाजपा नेता व समाजसेवी रामदास ओझा का निधन

सेवानिवृत प्रधानाचार्य, वरिष्ठ भाजपा नेता व समाजसेवी रामदास ओझा का निधन

5 min read
humara bikaner
humara bikaner
बीकानेर। बीकानेर पुष्करणा समाज में आजादी से पूर्व १९३६ में श्री बाबूलाल जी ओझा (कराची वाले) के यहां एक पुत्र का जन्म हुआ जिसना नाम था रामदास ओझा। बीकानेर के बारहगुवाड़ के पास कराचीवालों की गली में रहने वाले रामदास दास ओझा बचपन से पढ़ाई में अव्वल रहे तथा इनका विवाह कोलकता निवासी स्व. गणेशदास छंगाणी की सबसे बड़ी बेटी जशोदा देवी से हुआ। रामदास दास ओझा के यहां ६ पुत्रों का जन्म हुआ। रामदास ओझा को प्रथम श्रेणी के अध्यापक के रूप में सरकारी नौकरी मिली और कई स्कूलों के प्रधानाचार्य रहते हुवें अपना सरकारी सेवाकाल पूर्ण किया। बीकानेर शहर में रामदास ओझा ‘मास्टरजीÓ के नाम पहचाने जाने लगे। 
 
समाजिक कार्य और राजनीति में रूची रखने वाले रामदास ओझा सेवानिवृत होने के बाद अपना सारा समय सामाजिक कार्य में व्यतित करते थे। पूर्व लूणकरणसर विधायक माणिकचंद सुराणा के परम मित्र रामदास ओझा भारतीय जनता पार्टी में भी कई पदों पर रहे। पुष्करणा समाज के कर्णधार व्यक्तित्व के धनी रामदास ओझा की पहचान हमेशा सरल सौम्य व्यवहार ही रही। २५ फरवरी २०१९ की अलसुबह रामदास ओझा की तबीयत खराब होने की वहज से बीकानेर के ट्रोमा सेंटर लाया गया जहां उन्होंने अपनी अंतिम सांस ली। रामदास ओझा अपने पिछे भरा पूरा परिवार छोड़ गये है। तीये की बैठक स्थानीय नत्थुसरगेट पर बाहर दिनांक २६ फरवरी २०१९ को सांय ५ बजे रखी गई है।
humara bikaner
humara bikaner
Load More Related Articles
Load More By admin
Load More In बीकानेर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

प्रियंका गहलोत बने ऑल इंडिया सैनी सेवा समाज के प्रदेश उपाध्यक्ष

हमारा बीकानेर। ऑल इंडिया सैनी सेवा समाज (रजि.) राजस्थान (पश्चिम) के प्रदेश उपाध्यक्ष पद पर…