रेप केस पर मंत्री का बेटा बोला- शादी करना चाहता था, पिता राजी नहीं हुए, हनीट्रैप में फ़साने के लगाए आरोप

हमारा बीकानेर। राजस्थान के जलदाय मंत्री महेश जोशी के बेटे रोहित जोशी ने दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। याचिका में रोहित जोशी के खिलाफ दर्ज हुआ रेप का मामला हनीट्रैप से जुड़ा हुआ बताया गया है। याचिका में रेप के आरोपी रोहित ने दिल्ली सदर बाजार थाने में दर्ज एफआईआर को रद्द करने की गुहार लगाई है। उन्होंने कहा- फेसबुक के जरिए युवती से उसकी दोस्ती हुई थी। आपसी सहमति से संबंध बनाए। ब्लैकमेल कर लिव इन में रहने और पत्नी से तलाक लेने का दबाव बनाया। रोहित ने कोर्ट को बताया कि वह युवती से शादी करना चाहता था, लेकिन पिता राजी नहीं हुए।
रोहित की ओर से कोर्ट में कहा गया कि अक्टूबर 2020 में फेसबुक के जरिए उसकी दोस्ती युवती से हुई थी। युवती ने उसे दोस्ती का प्रस्ताव भेजा था, जिसे रोहित ने स्वीकार कर लिया था। जनवरी 2021 से दोनों एक-दूसरे के संपर्क में है। सवाई माधोपुर में पहली बार आपसी सहमति से दोनों के बीच संबंध बने थे। सवाई माधोपुर से शुरू हुई रिलेशनशिप के दौरान युवती ने उससे कई गिफ्ट भी लिए। फरवरी 2022 में ब्लैकमेल कर जयपुर में लिव-इन का दवाब बनाया।
युवती से शादी करना चाहता था, पिता राजी नहीं हुए
याचिका में रोहित ने कहा कि मैं पत्नी से तलाक लेकर युवती से शादी करना चाहता था, लेकिन पिता राजी नहीं हुए। उसे नहीं पता था कि युवती उसे फंसा रही है।
रोहित ने आरोप लगाया है कि हनीट्रैप में फंसाने के प्लान के तहत ही उससे दोस्ती की गई थी। युवती एफआईआर दर्ज कराकर उसे पत्नी और बेटी से अलग करना चाहती है। याचिका में युवती की ओर से दर्ज एफआईआर को गलत बताते हुए रद्द करने का आग्रह किया गया है।

Load More Related Articles
Load More By admin
Load More In राजस्थान

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

सीआईडी ने बीकानेर संभाग से तीन पाकिस्तानी जासूसो को किया गिरफ्तार

हमारा बीकानेर । सीआईडी ने बीकानेर संभाग में बड़ी कार्रवाई की है । सीआईडी ने बीकानेर संभाग स…