18 साल के स्टूडेंट ने पहली गोली दादी को मारी, फिर स्कूल पहुंचकर 19 बच्चों समेत 21 की ले ली जान

Share News

हमारा बीकानेर। अमेरिकी राज्य टेक्सास से मंगलवार दोपहर को दिल दहलाने वाली खबर आई। टेक्सास के युवाल्डे में रॉब एलिमेंट्री स्कूल में एक 18 वर्षीय युवक ने अंधाधुंध फायरिंग की। इस हमले में 19 स्टूडेंट और 2 टीचर की मौत हो गई। फायरिंग में 13 बच्चे, स्कूल के स्टाफ मेंबर्स और कुछ पुलिसवाले भी घायल हुए हैं। हमलावर ने स्कूल में फायरिंग से पहले अपनी दादी को भी गोली मारी है। उन्हें एयरलिफ्ट करके अस्पताल ले जाया गया है।
पुलिस अधिकारियों ने हमलावर को मारने का दावा किया है। अभी उसकी पहचान को लेकर कुछ भी साफ नहीं हो पाया है। बताया जा रहा है कि हमलावर खुद भी स्टूडेंट है। टेक्सास के स्कूल में फायरिंग की यह घटना कनेक्टिकट में 2012 में हुई फायरिंग से मिलती हुई है। कनेक्टिकट के न्यूटाउन में सैंडी हुक एलिमेंट्री हाईस्कूल में 14 दिसंबर 2012 को 20 वर्षीय युवक ने फायरिंग की थी। इस हमले में 26 लोगों की जान गई थी, इनमें 20 बच्चे थे। यह अमेरिका के इतिहास की सबसे भयावह मास शूटिंग थी।


Share News
Load More Related Articles
Load More By admin
Load More In दुनिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

श्रीविश्वकर्मा सुथार कॉलोनी समिति गोपेश्वर बस्ती के प्रांगण में 76वें स्वाधीनता दिवस के अवसर किया ध्वजारोहण

Share Newsहमारा बीकानेर। हर घर तिरंगा अभियान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा ओर 76वें स्व…