खाना पचाने से लेकर कोलेस्टेरोल और कैंसर को कंट्रोल रखता है सौंफ,

humara bikaner
humara bikaner

हमारा बीकानेर सौंफ का इस्तेमाल यूं तो हम सभी तमाम तरह से करते हैं जो कई औषधीय गुणों से भरपूर है। कई लोग खाने के बाद सौंफ खाना पसंद करते हैं जिससे मुंह फ्रेश रहता है। इसीलिए इसे पान में भी डाला जाता है। अगर किसी मुंह से दुर्गंध आ रही है तो अच्छा होगा वह व्यक्ति सौंफ का सेवन की आदत डाल दे, ताकि आस-पास का वातावरण स्वच्छ रहे। सौंफ में कॉपर, पोटेशियम, कैल्शियम, जिंक, मैगनींज, आयरन, सेलेनियम और मैग्नीशियम के साथ एंटी- इंफ्लेमेटरी, एंटी माइक्रोबियल और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। यह दिल की बीमारी को बेहतर करने में और हृदय रोग से जुड़ी कई समस्याओं को रोकथाम के लिए भी मदददगार है। इसका इस्तेमाल महिलाएं अपनी रसोई में भी करती हैं। सब्जी हो या दाल कड़ी हो या पुलाव सौंफ का तड़का हर तरह के खान-पान को लाजवाब बना देता है। इसके अलावा भी और भी तमाम बीमारियां हैं जिनमें सौंफ कारगर साबित होता है। जानिए किन-किन बीमारियं से लड़ने की ताकत देता है सौंफ का सेवन।

सौंफ से cholesterol भी कम होता है। ज्यादा cholesterol आपके शरीर के लिए हानिकाक हो सकता है। सौंफ के कुछ का सेवन आपको cholesterol को कम करने में मदद करता है। बता दें कि सौंफ में मौजूद फाइबर कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने में मदद करता है। हाई ब्लडप्रेशर को भी सौंफ के बीज कंट्रोल करने में मददगार साबित होते हैं।

हार्ट अटैक की रोकथाम के लिए है बेहतर ऑप्शन
सौंफ का सेवन करने से हार्ट अटैक होने की संभावना कम हो सकती है। सौंफ पोटेशियम का अच्छा स्त्रोत होता है जो ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करता है साथ ही इसमें फोलेट होता है जो हानिकारक होमोसिस्टीन को सौम्य रूप में परिवर्तित करने में मदद करता है। इसके अलावा यह स्ट्रोक या हार्ट अटैक के खतरे को भी कम करता है।

पेट संबंधी बीमारी से बचाता है
सौंफ बदहजमी को दूर करती है। जैसे ही आप सौंफ को चबाना शुरू करते हैं इसमें जो जरूरी तत्व होते हैं वे पाचन क्रिया का काम करना शुरू कर देते हैं। साथ ही इसमें जो फाइबर होता है वह मल को नरम करके कब्ज की समस्या को दूर करती है।

कैंसर की करता है रोकथाम

सौंफ में मैंगनीज नाम का एक तत्व होता है और जब शरीर इस मिनरल का इस्तेमाल करता है तब एक शक्तिशाली एन्टी-ऑक्सिडेंट एन्जाइम सूपरऑक्साइड डिस्म्यूटेस का उत्पादन होता है जो कैंसर की संभावना को कम करता है। सौंफ चबाने से त्वचा, पेट और स्तन कैंसर की संभावना कुछ हद तक कम होती है।

humara bikaner
Load More Related Articles
Load More By admin
Load More In खाना खज़ाना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

प्रियंका गहलोत बने ऑल इंडिया सैनी सेवा समाज के प्रदेश उपाध्यक्ष

हमारा बीकानेर। ऑल इंडिया सैनी सेवा समाज (रजि.) राजस्थान (पश्चिम) के प्रदेश उपाध्यक्ष पद पर…